NIOS से योग प्रशिक्षक बन पाए ज़िन्दगी में एक नया मुकाम..

योग हमें उन चीजों को ठीक करना सिखाता है जिसे सहा नहीं जा सकता और उन चीजों को सहना सिखाता है जिन्हे ठीक नहीं किया जा सकता।

फुल टाइम ब्लॉग्गिंग को ही अपना प्रोफेशन मान जब भी दिल से कुछ लिखने बैठता तो एक बात बहुत तकलीफ देती। लैपटॉप लिए उसके बटन में थपथपाती उँगलियों के बीच जब भावनाए प्रबल हो उठती तभी  “कमर दर्द” परेशान कर देती। बहुत सारी दवाईया ली, तेल लगाया मगर राहत नहीं मिल पा रही थी। तभी मेरे एक दोस्त ने मुझे योगा के फायदे बताए। उनके शब्दों पर विश्वाश किया जाए तो आज योगा आपके सारे समस्याओं का समाधान हो सकता है। आज समाज में जिस तरह से योगा के प्रति लोगों की उत्सुकता बढ़ रही है। उससे एक बात तो तय है कि आने वाला कल एक कुशल योग प्रशिक्षक का ही है| प्रस्तुत आलेख के माध्यम से आज हम आपको योगा टीचर कैसे बने जैसे सवाल का जवाब देने के लिए, आपको NIOS Yoga Teacher Training Program के बारे में बताएंगे।

Page Index
1. योग टीचर कैसे बने | NIOS Yoga Teacher Training Program
2. पाठ्यक्रम निर्देश का माध्यम (Medium of Instruction)
3. अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न(FAQs)

योग टीचर कैसे बने | NIOS Yoga Teacher Training Program

योग शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम योग विज्ञान के क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण पाठ्यक्रम है| ऐसे लोग जो योग में विशेष रूचि रखते हैं एवं आगे जाकर योग में अपना भविष्य सवारना चाहते हैं, उनके लिए NIOS Yoga Teacher Training Program काफी लाभदायक होती है|

योग पाठ्यक्रम का उद्दद्देँय (Objective of the Course)

इस पाठ्यक्रम का उद्दद्देँय स्वास्थ्य और शिक्षा के शिक्षार्थियों को, योग में प्रशिक्षित्र करना है| आइये नजर डालते हैं पाठ्यक्रम के उद्देश्य पर|

  • योग सिधान्तों तथा योग क्रिया विज्ञान को बेहतर ढंग से समझ पाना|
  • मानव शरीर विज्ञान और शरीर क्रिया विज्ञान की मुलभुत जानकारी के बारे में जानना|
  • शिक्षार्थियों को योग शिक्षा देना|
  • एक कुशल योग शिक्षक बन योग कक्षायें संचालित करना|

प्रवेश योग्यता (Eligibility)

  • शैक्षणिक योग्यता:  किसी भी मायता प्राप्त शिक्षण संस्थान से 12 वीं कक्षा पास या समकक्ष.
  • न्यूनतम आयु सीमा:  18 वर्ष या उससे अधिक.
  • नागरिकता: सभी भारतीय अथवा विदेशी नागरिक जो उपरोक्त प्रवेश योग्यता को पूर्ण करते हो|

पाठ्यक्रम अवधी (Course Duration)

NIOS द्वारा संचालित NIOS Yoga Teacher Training Program पाठ्यक्रम का सञ्चालन दो प्रकार से किया जाता है|

  • एक माह आवासीय पाठ्यक्रम: न्यूनतम संपर्क घंटे- 240 Hours
  • 6 महीने का ओपन पाठ्यक्रम: न्यूनतम संपर्क घंटे- 240 Hours

**अवधी के दौरान 30 दिनों में 3 वर्कशॉप भी करवाईं जायेगी|

पाठ्यचर्या (Course Curriculam)

पाठ्यक्रम में कुल पांच पेपर होंगे| जिसमे थ्योरी के 3 तथा प्रैक्टिकल के 2 पेपर शामिल होंगे|

Theory Paper:

  • योग दर्शनशास्त्र और क्रिया विज्ञान
  • मानव शरीर, आहार एवं शुद्धि
  • व्यावहारिक योग विज्ञान

Practical Paper:

  • प्रायोगिक योग प्रशिक्षण
  • योग शिक्षण कौशल

इसे पढ़े: 10वी और 12वी में फ़ैल Students के लिए “NIOS ODE” बनी आश की किरण

पाठ्यक्रम निर्देश का माध्यम (Medium of Instruction)

ध्यान दे आयोजित पाठ्यक्रम में निर्देश की माध्यम अभी फ़िलहाल केवल हिंदी अथवा अंग्रेजी ही होगी| भविष्य में और भी कई क्षेत्रीय भाषाओँ में इसका प्रचार किया जाएगा|

प्रवेश प्रक्रिया (Admission Procedure)

उपरोक्त कोर्स में आवेदन हेतु आपको निम्नलिखित दिशानिर्देश का पालन करना परेगा|

  • आप प्रॉस्पेक्टस के साथ उपलब्ध आवेदन पत्र, जिसे NIOS के ऑफिसियल वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता हैं|
  • पूर्ण रूप से भरी एप्लीकेशन फॉर्म अपने नजदीकी NIOS Centre में उपरोक्त फीस के साथ जमा करवा इस कोर्स में नामांकन करवाईं जा सकती है|
  • अभ्यर्थी प्रशिक्षण केंद्र में वर्ष भर में अपना आवेदन पत्र जमा करवा सकते हैं|

पाठ्यक्रम का शुल्क (Course Fees)

NIOS Yoga Teacher Training Program पाठ्यक्रम का शुल्क 10,000 रूपए है जिसमे प्रवेश, पाठ्यसामग्री, और प्रथम बार का परीक्षा शुल्क भी सम्मिलित होगी| विदेशी नागरिकों के लिए 500 डॉलर का शुल्क निर्धारित की गयी है|

नोट: प्रैक्टिकल के दौरान आवास में रहने, खाने अथवा अन्य खर्च हेतु व्यायाम अध्यन केंद्र चाहे तो सिमित शुल्क अलग से ले सकते हैं|

आशा करते हैं NIOS Yoga Teacher Training Program से जुड़ीं यह लेख आपके काम आये|

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न(FAQs)

प्र. क्या योगा शरीर को आकार देता है?

उत्तर: “योग में वसा घटाने, मांसपेशियों की टोन विकसित करने और लचीलेपन का निर्माण करने, अधिक दुबले दिखने वाले काया की ओर अग्रसर होने की क्षमता है,” वे कहते हैं। यदि लचीलेपन और संतुलन आप के बाद कर रहे हैं, यहां तक ​​कि योगा के gentlest रूप भी चाल चलेगा। कई प्रकार आपको मांसपेशियों की ताकत और धीरज बनाने में भी मदद करते हैं।

प्र. योग के बाद मैं क्यों थक जाता हूं?

उत्तर: एक कोमल लेकिन बहने वाली प्रथा आपको बेहतर महसूस करने में मदद कर सकती है। थकान आपके शरीर पर संचयी तनाव का परिणाम है – प्रशिक्षण की मात्रा से, आपके योग अभ्यास से, न सोने से और न आराम करने से, और न ही जीवन के किसी तनाव से।

प्र. एक योगा शिक्षक क्या करता है?

उत्तर: एक योगा शिक्षक एक फिटनेस और वेलनेस पेशेवर है जो योग में समूह कक्षाओं का नेतृत्व करता है। वे छात्रों को सिखाते हैं कि विभिन्न स्ट्रेचिंग पोज़ कैसे करें, ध्यान का अभ्यास करें और समग्र भलाई के अलावा माइंडफुलनेस को बढ़ावा दें।

प्र. योग शिक्षकों को क्या कहा जाता है?

उत्तर: हम योगी, गुरु जी, स्वामी और आचार्य को योग शिक्षक कह सकते हैं|

अपने सवालों की पूस्ति करने के लिए क्लिक करें

चिंता न करें, यदि आप भी करियर सम्बंधित किसी तरह के परेशानियों से जूझ रहे हैं तो हमसे संपर्क करना न भूले| याद रहे केवल उचित मार्गदर्शन से ही असंभव को संभव किया जा सकता हैं|आप अपनी उलझने हमें कमेंट भी कर सकते हैं|

शुभकामनाएँ…!!!

Rate this post

9 thoughts on “NIOS से योग प्रशिक्षक बन पाए ज़िन्दगी में एक नया मुकाम..”

  1. एनआईओएस का हर क्षेत्र में नाम है परंतु एनआईओएस की मान्यता सूची में माध्यमिक संस्कृत शिक्षा परिषद लखनऊ बोर्ड का नाम नहीं है माध्यमिक संस्कृत शिक्षा परिषद लखनऊ बोर्ड उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा विधि स्थापित है सन 2000 से इसकी स्थापना है उत्तर प्रदेश का एकमात्र संस्कृत बोर्ड है

    प्रतिक्रिया

Leave a comment below or Join Edufever forum