एमसीए (MCA) क्या है, प्रवेश, सैलरी, करियर इत्यादि: संपूर्ण जानकारी हिंदी में

आज की इस विकसित दौर में लगभग हर एक व्यक्ति सफल बनना चाहता है। इसीलिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आप सही समय पर अपने लिए एक अच्छा निर्णय लें। खासतौर पर 12वीं के बाद हमें किस क्षेत्र में आगे बढ़ना है यह निर्णय काफी ज्यादा महत्वपूर्ण होता है। आज के इस दौर में युवाओं के लिए रोजगार एक बड़ा विषय बन गया है। युवाओं के लिए अपने लिए रोजगार पाना किसी चुनौती से कम नहीं है, फिर चाहे वह इंजीनियरिंग (एमसीए) का क्षेत्र हो या मेडिकल का कोई क्षेत्र या अन्य कोई प्रोफेशनल क्षेत्र हर जगह पर स्पर्धा बढ़ती जा रही है।

ऐसे में अगर आप लोगों के साथ आगे बढ़ना चाहते हैं तो आपके लिए एमसीए एक बेहतर करियर विकल्प साबित हो सकता है। जिस भी छात्रों को आईटी में रुचि है वह इस कोर्स को कर सकते हैं। आइए जानते हैं कि एमसीए क्या है? और इसमें आपके लिए क्या-क्या करियर विकल्प हो सकते हैं।

एमसीए क्या है?

आज के इस तेज विकसित दौर में कंप्यूटर और इंटरनेट का प्रयोग तीव्रता से बढ़ता जा रहा है। आज के समय में लगभग हर एक व्यक्ति कंप्यूटर सीख रहा है, जो कि एक प्रकार की आम बात हो गई है। परंतु इस क्षेत्र में भी लोग कुछ नया करने के लिए कड़ी मेहनत करते हुए नजर आ रहे हैं। एमसीए जिस का फुल फॉर्म Master of Computer Application (मास्टर आफ कंप्यूटर एप्लीकेशन) है। यह एक प्रकार का कंप्यूटर और सूचना प्रौद्योगिकी से संबंधित ही डिग्री कोर्स है। एमसीए के कोर्स में कुल 6 सेमेस्टर सम्मिलित होते हैं। एमसीए के पहले सेमेस्टर में आमतौर पर मूल्य विषय होते हैं। एमसीए के दूसरे समेस्टर से लेकर छठवें समेस्टर तक डीप नॉलेज बताया जाता है। और अंतिम समेस्टर में प्रोजेक्ट भी देना होता है। प्रोजेक्ट तैयार करने के लिए छात्रों को अलग-अलग प्रकार की प्रोग्रामिंग भाषा
जैसे :- C, C++, JAVA, PHP, MYSQL का प्रयोग करना होता है।

एमसीए में एडमिशन लेने हेतु पात्रता:

  • MCA में एडमिशन हेतु स्नातक होना अनिवार्य है|
  • स्नातक BSC(PCM)/ BCA/ B.sc(cs)/Bsc(IT) होना चाहिए|
  • MCA में एडमिशन हेतु स्नातक में 50% अंक होने चाहिए|
  • सरकारी संस्थानों में MCA में एडमिशन हेतु प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाती है|

एमसीए कोर्स की समय अवधि और इसका पाठ्यक्रम किस प्रकार है?

एमसीए कोर्स को पूरा करने में छात्रों को 3 वर्ष की समय अवधि लगती है। इन 3 वर्षों में कुल 6 सेमेस्टर होते हैं। जो कि इस प्रकार विभाजित किए गए हैं। इस कोर्स के पाठ्यक्रम निम्नलिखित है।

पहला सेमेस्टर

  • कंप्यूटर विज्ञान के गणितीय फाउंडेशन
  • लेखांकन और वित्तीय प्रबंधन
  • कंप्यूटर संगठन
  • कंप्यूटर और “C” प्रोग्रामिंग
  • UNIX और शैल प्रोग्रामिंग
  • प्रोग्रामिंग के प्रतिमान
  • व्यवहारिक
  • प्रोग्रामिंग लैब
  • संगठन लैब
  • यूनिक्स / लिनक्स और शैल प्रोग्रामिंग लैब
  • सामान्य प्रवीणता

दूसरा सेमेस्टर

  • संगठनात्मक संरचना और कार्मिक प्रबंधन
  • डेटा और फ़ाइल संरचना ‘C’ का उपयोग करना
  • C ++ में Object-Oriented Systems
  • कंप्यूटर आधारित संख्यात्मक और सांख्यिकीय तकनीक
  • संयुक्त और ग्राफ सिद्धांत
  • कंप्यूटर वास्तुकला और माइक्रोप्रोसेसर
  • व्यावहारिक
  • डाटा स्ट्रक्चर लैब
  • सी ++ लैब
  • माइक्रोप्रोसेसर लैब
  • सामान्य प्रवीणता

तीसरा समेस्टर

  • कंप्यूटर नेटवर्क
  • एल्गोरिथम का डिज़ाइन और विश्लेषण
  • ऑपरेटिंग सिस्टम
  • डेटाबेस प्रबंधन प्रणाली
  • इंटरनेट और जावा प्रोग्रामिंग
  • सिस्टम प्रोग्रामिंग
  • व्यावहारिक
  • DBMS लैब
  • जावा लैब
  • DAA लैब
  • सामान्य प्रवीणता

चौथा समेस्टर

  • मूल दृश्य
  • मॉडलिंग और सिमुलेशन
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग
  • वैकल्पिक I (निम्नलिखित में से कोई एक)
  • ई-कॉमर्स का फाउंडेशन
  • कंप्यूटर ग्राफिक्स और एनीमेशन
  • व्यावहारिक
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग लैब
  • कंप्यूटर ग्राफिक्स लैब
  • विजुअल बेसिक लैब
  • सामान्य प्रवीणता

पांचवां समेस्टर

  • वेब प्रौद्योगिकी
  • वैकल्पिक II (निम्न में से कोई एक)
  • नेट फ्रेमवर्क और सी
  • ईआरपी सिस्टम
  • वैकल्पिक III (निम्नलिखित में से कोई एक)
  • प्रबंधन सूचना प्रणाली
  • व्यावहारिक
  • वेब प्रौद्योगिकी लैब
  • नेट फ्रेमवर्क और सी-लैब
  • वार्तालाप
  • सामान्य प्रवीणता

छटवां समेस्टर

  • औद्योगिक परियोजना

एमसीए करने के लिए आवश्यक क्वालिफ़िकेशन क्या है?

1.एमसीए में प्रवेश पाने के लिए छात्रों को स्नातक होना अनिवार्य है।

2.एमसीए में प्रवेश पाने के लिए छात्रों के पास स्नातक की डिग्री BSC (PCM)/ BCA/ B.sc(cs)/Bsc(IT) होना अनिवार्य है।

3.छात्रों को स्नातक में कम से कम 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण होना जरूरी है।

4.एमसीए में प्रवेश पाने के लिए सरकारी संस्थाओं द्वारा आयोजित प्रवेश परीक्षा में उत्तीर्ण होना आवश्यक है।

MCA Admission in Top Colleges
MCA Admission in Top Colleges

प्रवेश परीक्षा के लिए क्या पाठ्यक्रम होता है?

कुछ कॉलेज मेरिट के आधार पर भी एमसीए में प्रवेश लेते हैं। सरकारी तथा ग़ेर-सरकारी संस्थानों द्वारा एमसीए की प्रवेश परीक्षा संचालित कराई जाती है। जिसमें छात्रों से मैथमेटिकल, एनालिटिकल एबिलिटी, लॉजिकल रीजनिंग, कंप्यूटर अवेयरनेस से जुड़े सवाल इंग्लिश में पूछे जाते हैं।

एमसीए कोर्स करने के लिए क्या फीस निश्चित है?

अलग-अलग कॉलेजों में इसकी अलग अलग फीस निश्चित होती है। यदि आप सरकारी कालेजों में अपना दाखिला करवाते हैं तो एक अनुमानित शुल्क ₹30,000 से लेकर ₹35,000, 1 वर्ष का चुकाना पड़ सकता है। यदि किसी प्राइवेट कॉलेज के माध्यम से इस कोर्स को करते हैं तो आपको एक अनुमानित शुल्क ₹50,000 से लेकर ₹70,000 या इस से अधिक हो सकता है।

एमसीए करने की क्या फायदे हो सकते हैं?

  1. यदि उम्मीदवार एमसीए सफलतापूर्वक कर लेता है तो वह आगे चलकर सॉफ्टवेयर डेवलपर भी बन सकता है।
  2. इस डिग्री को प्राप्त करने के बाद आपको कंप्यूटर के क्षेत्र में एक अच्छी नौकरी मिल सकती है।
  3. यदि आप एमसीए का कोर्स सफलतापूर्वक पूरा कर लेते हैं, तो आपको भारत में ही नहीं विदेशों में भी आईटी कंपनी द्वारा नौकरी मिलने के आसार बढ़ जाते हैं।
  4. एमसीए करने के बाद आपको बहुत सी बड़ी बड़ी आईटी कंपनियों में सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में नौकरी मिल सकती है।
  5. एमसीए करने के पश्चात उम्मीदवार को बैंकिंग सेक्टर, स्टॉक मार्केट, ई-कॉमर्स, नेटवर्किंग आदि के क्षेत्र में भी नौकरी के अवसर प्राप्त हो सकते हैं।

एमसीए में जॉब प्रोफाइल क्या क्या हो सकती है?

  • सॉफ्टवेयर इंजीनियर
  • सॉफ्टवेयर डेवलपर
  • टीम लीडर, आईटी
  • प्रोजेक्ट मैनेजर
  • सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन आर्किटेक्ट
  • सिस्टम विश्लेषक
  • सॉफ्टवेयर प्रोग्रामर

एमसीए के बाद रोजगार के क्षेत्र क्या हो सकते हैं?

  • स्टॉक एक्सचेंज
  • बैंकिंग क्षेत्र
  • ई-कॉमर्स कंपनियां
  • स्कूल और कॉलेज
  • सरकारी एजेंसियां
  • नेटवर्किंग कंपनियां
  • डेटाबेस प्रबंधन कंपनियां
  • सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट कंपनियां
  • सुरक्षा और निगरानी कंपनियां
  • डिजाइन सपोर्ट और डेटा कम्युनिकेशंस कंपनियां

भारत में एमसीए के लिए टॉप कॉलेज

एमसीए के क्षेत्र में अनुमानित वेतन रुझान क्या हो सकता है?

एमसीए करने के बाद उम्मीदवार को एक अच्छा वेतन मिलता है। शुरुआती में उम्मीदवार को इस क्षेत्र में ₹20,000 से लेकर ₹30,000 तक मिल सकता है। जैसे-जैसे आप का अनुभव बढ़ता जाता है, और आप किसी MNC कंपनी में नौकरी पा जाते हैं तो आप का अनुमानित वेतन ₹50,000 से लेकर ₹1,00,000 तक हो सकता है। अंततः करियर के क्षेत्र में यह आपके लिए अच्छा विकल्प हो सकता है।

एमसीए से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण प्रश्र

प्रशन – क्या इसके लिए कॉलेज सीमित हैं ?

उत्तर – ऐसा बिलकुल भी नहीं है आप इस कोर्से को करने में अगर इच्छुक हैं तो आप बिलकुल भी परेशान ना हों |

प्रशन – क्या सभी कॉलेज मेरिट के आधार पर इसमें प्रवेश देते हैं ?

उत्तर- ऐसा जरुरी नहीं है आपको सभी कॉलेज में प्रवेश के लिए आवेदन देने की आवश्यकता नहीं होती है |

प्रशन – क्या एमसीए बी.कॉम के बाद कर सकते है?

उत्तर – नहीं कर सकते है इसके लिए आपको BSC (PCM)/ BCA/ B.sc(cs)/Bsc(IT) होना अनिवार्य है।

प्रशन –क्या B.Tech इन इलेक्ट्रिकल एंड कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग करने के बाद एमसीए कर सकते है?

उत्तर – हाँ कर सकते है।

प्रशन – इस कोर्से को करने के बाद क्या हम विदेशों में अवसर पा सकते हैं ?

उत्तर – बिलकुल आपको अपने अनुसार कहीं भी रोजगार मिल सकता है अगर आप विदेशों में जाकर कार्य करना चाहते हैं तो आपके पास ये भी विकल्प मौजूद है |

इसे भी पढ़े:

भारत में शीर्ष कॉलेजों की सूची

Courses Name Links Here
Engineering Colleges in India Click Here
Medical Colleges in India Click Here
Architecture Colleges in India Click Here
BAMS Colleges in India Click Here
BHMS Colleges in India Click Here
BSMS Colleges in India Click Here
BYNS Colleges in India Click Here
BUMS Colleges in India Click Here
Dental Colleges in India Click Here
Nursing Colleges in India Click Here
Physiotherapy Colleges in India Click Here
Veterinary Colleges in India Click Here
Pharmacy Colleges in India Click Here
LAW Colleges in India Click Here
B.Ed Colleges in India Click Here
Hotel Management Colleges in India Click Here
Fashion Designing Colleges in India Click Here
Polytechnic Colleges in India Click Here

क्या अपने मन में ऊपर लिखे आलेख से जुड़े कोई सवाल है? अपना सवाल यहाँ पूछें, नोट: सवाल विस्तार से लिखें

14 thoughts on “एमसीए (MCA) क्या है, प्रवेश, सैलरी, करियर इत्यादि: संपूर्ण जानकारी हिंदी में”

Leave a comment below or Join Edufever forum