10वीं के बाद मैकेनिकल इंजीनियरिंग में कैसे भविष्य बनायें, जाने पूरी जानकारी।

10वीं के बाद बहुत से स्टूडेंट अपना भविष्य मैकेनिकल इंजीनियर के रूप में देखते है। भारत में 10वीं के बाद छात्रों की पहली पसंद मैकेनिकल इंजीनियरिंग है। Mechanical Engineering मशीनों से जुड़ी हुई फिल्ड है इस फिल्ड में आकर कोई भी छात्र अपना बेहतर भविष्य बना सकता हैं। इसमें मशीन निर्माण से लेकर मशीन से जुड़ी सभी जानकारियां दी जाती है, जिनकी मदद से स्टूडेंट एक सफल मैकेनिकल इंजीनियर (ME) बन पाते हैं। यदि आप भी अपना भविष्य मैकेनिकल इंजीनियर के रूप में बनना चाहते है तो आज हम इस आर्टिकल में मैकेनिकल इंजीनियरिंग से जुड़ी सभी जानकारियां आपके साथ साझा कर रहे हैं। आइये जानते हैं Mechanical Engineering क्या है और इसमें नौकरी के बारें में।

Page Index:
1. पॉलीटेक्निक क्या है?
2. मैकेनिकल इंजीनियरिंग कैसे करें
3. मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने के बाद नौकरियां और स्कोप
4. मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने से पहले इन बातों पर गौर करें
5. मैकेनिकल इंजीनियरिंग कोर्स से जुड़े कुछ सामान्य प्रश्न

पॉलीटेक्निक क्या है?

पॉलीटेक्निक एक पॉपुलर डिप्लोमा कोर्स है। इसके माध्यम से स्टूडेंट 10वीं पास करने के बाद ही मैकेनिकल इंजीनियरिग या सिविल इंजीनियरिंग कोर्स कर सकते हैं। यदि स्टूडेंट मैकेनिकल इंजीनियरिंग करना चाहते है तो पॉलीटेक्निक उनके लिए सबसे सरल माध्यम है। इस कोर्स की सम्पूर्ण जानकरी इस तरह है:

योग्यता – स्टूडेंट 10वीं में उत्तीर्ण होना चाहिए और इंग्लिश, मैथ और साइंस विषय में 35 फीसदी अंक होने चाहिए.
अवधि –  3 वर्ष.
फीस –   35 से 50 हजार रूपए हैं.
एडमिशन – इसमें एडमिशन लेने के लिए CET यानि कॉमन एंट्रेस टेस्ट पास करना आवश्यक है.

मैकेनिकल इंजीनियरिंग कैसे करें

मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने के लिए 10वीं के बाद स्टूडेंट पॉलीटेक्निक के माध्यम से मैकेनिकल इंजीनियरिंग का डिप्लोमा कर सकते हैं। यह कोर्स 3 साल का होता है, अगर आप 12वीं के बाद करते है तो यह आप 2 साल में भी पूरा कर सकते हैं। इसमें प्रवेश लेने के बाद स्टूडेंट को मशीन निर्माण एंव मशीन से जुड़ी सभी जानकारियों पर अध्ययन करवाया जाता है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद स्टूडेंट अनेक कम्पनीयों एंव सरकारी विभाग में काम कर सकते हैं। इसके अलावा वो विदेश में भी मैकेनिकल इंजीनियर के रूप में कार्य कर सकते हैं। आइये जानते है पॉलीटेक्निक में प्रवेश कैसे लें और प्रवेश के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए।

मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने के बाद नौकरियां और स्कोप

मैकेनिकल इंजीनियरिंग पॉलीटेक्निक के माध्यम से पूरा करने के बाद स्टूडेंट किसी भी सरकारी या गैर सरकारी संस्था में कार्यरत हो सकता है। यदि स्टूडेंट अपनी पढाई आगे जारी रखना चाहते हैं Mechanical Engineering में तो वह बीटेक के सेकंड ईयर में सीधे प्रवेश ले सकते है और अपने बेहतर भविष्य का निर्माण कर सकते हैं। इसके अलावा वह देश-विदेश में कहीं पर भी मैकेनिकल इंजीनियर के रूप में कार्य कर सकते हैं।

जॉब प्रोफाइल

Mechanical Engineering कोर्स सफलतापुर्वक करने के बाद स्टूडेंट यह जॉब प्रोफाइल रख सकते हैं जैसे –

  • एयरोस्पेश इंजीनियर
  • मोटर वाहन इंजीनियर
  • यांत्रिक इंजीनियर
  • मेंटेनेंस इंजीनियर
  • परमाणु इंजीनियर

अनुमानित सैलेरी

मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने के बाद एक मैकेनिकल इंजीनियर की सैलेरी की बात की जाए तो यह जॉब प्रोफाइल के अनुसार अलग-अलग हो सकती है। पर अनुमानित सैलेरी की बता की जाए तो 18,000 से 50,000 रूपए से भी अधिक हो सकती है। इसके अलावा मैकेनिकल इंजीनियर के रूप में विदेश में भी कार्य कर सकते हैं।

मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने से पहले इन बातों पर गौर करें

कहते हैं की कुछ भी करने से पहले अपनी पसंद जरुर देखनी चाहिए। अक्सर ऐसा होता है की हम अपने घरवालों के दवाब में वो पढने या करने लग जाते है जो हमें पसंद नहीं होता है। और यह बात तो जगजाहिर है की जो चीजे हमें पसंद नहीं होती उन्हें हम कभी बेस्ट नहीं कर पाते हैं। ऐसा ही मैकेनिकल इंजीनियरिंग में है यह बहुत ही अलग और हटकर करने वाला काम है, इसमें आपको मेहनत करनी ही पड़ती है क्योंकि यह एक जगह बैठे रहने वाला काम तो बिलकुल भी नहीं है। अगर आप मैकेनिकल इंजीनियर के रूप में कहीं पर भी कार्य करते हैं तो मशीनों पर तो काम करना ही होगा ऐसे में बहुत सी परेशानीयां मैकेनिकल इंजीनियर के सामने आती है यह इस तरह है–

मशीनों से लगाव

यदि हम किसी चीज से लगाव नहीं करेंगे तो उसे हम अच्छा कभी नहीं कर पायेंगे। यदि Mechanical Engineering के रूप में कुछ अच्छा और हटकर करना है तो मशीनों से लगाव रखना जरूरी है। उनके बारें में लगाव होगा तभी हम उन्हें अच्छी तरह से समझ पायेंगे और अपना बेस्ट प्रदर्शन दे पायेंगे। इसलिए यदि किसी को मशीनों से लगाव नहीं है और कुछ नया मशीनों के बारें में सिखने की इच्छा नहीं है तो यह कोर्स कदापि ना करें।

कपड़े गंदे होने का डर

यदि आप बॉस वाला काम चाहते है तो मैकेनिकल इंजीनियरिंग आपके लिए नहीं बनी है। यहाँ पर आपको अपने कपड़े गंदे भी करने पड़ सकते है और अगर आप ऐसी जॉब में है जहां मशीनों के निर्माण एंव उनके पार्ट्स सही करने का काम होता है तो ऐसी जॉब में कपड़े गंदे होना आम बात है।

मेटेरियल की समझ

यदि किसी को मटेरियल की समझ नहीं है तो वह मैकेनिकल इंजीनियरिंग में अपना बेस्ट नहीं दे पायेंगे। इसलिए मटेरियल की समझ होना बहुत आवश्यक है। यदि आप बचपन से ही मशीनों से जुड़े हुए हो तो आपके लिए मैकेनिकल इंजीनियरिंग एक बेस्ट ऑप्शन हो सकता है।

मेहनत करने का डर

आज बहुत से लोग एक ऐसी जॉब चाहते हैं जो सिर्फ कंप्यूटर के आगे बैठे रहने वाली हो तो आपको बता दूँ की मैकेनिकल इंजीनियरिंग ऐसे लोगों के लिए बिलकुल नहीं है। यहाँ काम में बहुत मेहनत लगानी पड़ती है और अपनी सोच, अपने आइडियाज को एक हकीकत में बदलने का काम होता है। एक नई मशीन का निर्माण करने के लिए आपको कितनी मेहनत करनी होगी आप समझ सकते हैं। यदि आपको यह सब पंसद नहीं है तो आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग में प्रवेश ना लें तो अच्छा है। अगर यह सब पसंद है तो आपके अच्छे भविष्य के लिए मैकेनिकल इंजीनियरिंग आपके लिए बेस्ट है।

आपको हमारी जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट्स में जरुर बताएं। यदि आपके मैकेनिकल इंजीनियरिंग से जुड़े कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में लिखें।

टॉप कॉलेजेस (Top Colleges)

कलगेस के नाम (Name of the Colleges)स्थान (Location)
Lovely Professional UniversityPhagwara
Jamia Millia IslamiaNew Delhi
Maharaja Sayajirao University of BarodaVadodara
Techno India UniversityKolkata
Integral UniversityLucknow, Uttar Pradesh
Government PolytechnicNashik
Aligarh Muslim University Aligarh
Institute of Engineering And Rural TechnologyAllahabad
Vivekananda Global UniversityJaipur
Galgotias UniversityGreater Noida
KIIT PolytechnicBhubaneswar
Netaji Subhas Institute Of TechnologyPatna
KJ Somaiya PolytechnicMumbai
OPJS UniversityRajgarh
Nitte Meenakshi Institute of Technology Bangalore

मैकेनिकल इंजीनियरिंग कोर्स से जुड़े कुछ सामान्य प्रश्न

प्रशन – 12वीं आर्ट्स के लिए मैकेनिकल इंजीनियरिंग कर सकते है?

उत्तर – अगर आप 12वीं  के बाद मैकेनिकल इंजीनियरिंग का कोर्स करना चाहते हैं तो 12वीं में साइंस का होना अनिवार्य है।

प्रशन -अगर आप 12वीं  के बाद मैकेनिकल इंजीनियरिंग का कोर्स करना चाहते हैं तो 12वीं में साइंस का होना अनिवार्य है।

उत्तर- हाँ कर सकते है आगे की पढाई मतलब बी.टेक कर सकते है मर्चेंट नेवी।

प्रशन – Mechanical Engineering करने के बाद एयरोस्पेस इंजीनियरिंग कर सकता हूँ।

उत्तर – – हाँ कर सकते है, अगर आप डिप्लोमा मैकेनिकल इंजीनियरिंग से किये है और आप बी.टेक एयरोस्पेस से करना चाहते है तो आप आराम से कर सकते है। अच्छे कॉलेज में एडमिशन के लिए आपको JEE Mains का एग्जाम देना होगा।

प्रशन –Mechanical Engineering से इलेक्ट्रिकल में ट्रांसफर हो सकते है की नहीं। 

उत्तर- आप कोर्स के बीच में ट्रांसफर नहीं करवा सकते। आप कम्प्लीट करने के बाद चेंज कर सकते है।

प्रशन –क्या इलेक्ट्रिकल और मैकेनिकल इंजीनियरिंग साथ में कर सकते है?

उत्तर – बिलकुल भी नहीं, आपको किसी एक में पढाई करनी होगी।

प्रशन – मैकेनिकल इंजीनियरिंग के बाद मास्टर करने के लिए दुनिया मे कोनसा देश बेस्ट है।

उत्तर – दुनिया में तो बहुत से देश बेस्ट है अब आप पे निर्भर करता है आप कहा जाना चाहते है और किस कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते है। वैसे ज़्यादा तर तो मशहूर Mechanical Engineering में रूस है आप यहाँ पढ़ सकते है।

इसे भी पढ़ें:

5/5 - (3 votes)

6 thoughts on “10वीं के बाद मैकेनिकल इंजीनियरिंग में कैसे भविष्य बनायें, जाने पूरी जानकारी।”

Leave a Comment