फिजियोथेरेपी क्या है: कोर्स, परीक्षा, फ़ीस, कॉलेज, जॉब इत्यादि.

आज के समय में अनेक प्रकार की बीमारियां उभर कर सामने आ रही है। अनेक प्रकार की बीमारियों से निजात पाने के लिए लोग दवाइयों का प्रयोग करते हैं। दवाओं को एक सीमित मात्रा में प्रयोग करने से यह आपके लिए लाभकारी सिद्ध तो होती ही है, परंतु अगर ज्यादा समय तक हम किसी भी दवा का प्रयोग करते हैं तो यह हमारे लिए हानिकारक भी सिद्ध हो सकता है। इसीलिए आज ज्यादातर लोग दवाओं का प्रयोग करना पसंद नहीं करते। ऐसे में फिजियोथैरेपी की मांग बहुत ज्यादा हो रही है।

मेडिकल के क्षेत्र में सबसे ज्यादा उभरता हुआ क्षेत्र आज के समय में नजर आ रहा है। फिजियोथैरेपी के माध्यम से बीमारियों का उपचार दवाइयों को छोड़कर व्यायाम के जरिए किया जाता है। इसीलिए अगर आपने 12वीं में फिजिक्स, केमेस्ट्री, बायोलॉजी से पढ़ाई की है, तो यह आपके लिए बेस्ट करियर विकल्प हो सकता है। हम इस लेख के माध्यम से आपको बताएंगे कि फिजियोथैरेपी क्या है? और इसमें अपना करियर कैसे बना सकते हैं।

Page Index
1.फिजियोथैरेपी क्या है?
2.फिजियोथैरेपी के कोर्स कौन-कौन से होते हैं?

3.फिजियोथैरेपी के कुछ प्रमुख संस्थान
4.फिजियोथैरेपी का कितने साल का कोर्स होता है?
5.शैक्षणिक योग्यता क्या हो सकती है?
6.फिजियोथैरेपी कोर्स करने के लिए क्या अनुमानित फीस हो सकती है?
7.फिजियोथैरेपिस्ट बनने के लिए जरूरी स्किल?
8.नौकरी के क्या-क्या विकल्प हो सकते हैं?
9.एक फिजियोथेरेपिस्ट की अनुमानित सैलरी क्या हो सकती है?
10.फिजियोथैरेपी कोर्स से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न

फिजियोथैरेपी क्या है?

आज के समय में हम बहुत ही भागदौड़ के साथ साथ आलसी होते जा रहे हैं। ऐसे में हम अपने शरीर का ध्यान सही तरीके से नहीं रख पाते यही कारण है कि जिससे हमें अपने शरीर से संबंधित कई सारी बीमारियां का सामना करना पड़ता है। ऐसे में हमारे शरीर से संबंधित किसी भी समस्या से निजात पाने के लिए आजकल हमें डॉक्टर फिजियोथैरेपी कराने की सलाह देते हैं और फिजियोथैरेपिस्ट के पास भेज देते हैं। फिजियोथैरेपी के माध्यम से ही आज के समय में लगभग बीमारियों का इलाज किया जाता है। अगर आप किसी भी हॉस्पिटल में जाएंगे तो आपको एक फिजियोथैरेपी डिपार्टमेंट जरूर मिलेगा। फिजियोथैरेपीके जरिए ही कई सारी बीमारियों का इलाज संभव है।

जैसे:  कई प्रकार की विकलांगता और रीढ़ की हड्डी, पीठ, गर्दन आदि से संबंधित इलाज के लिए भी इसका प्रयोग किया जाता है। यहां तक कि तनाव से संबंधित समस्याओं से निजात पाने के लिए भी फिजियोथैरेपी का सहारा लिया जाता है।

फिजियोथैरेपी के कोर्स कौन-कौन से होते हैं?

आपने तो जान ही लिया कि फिजियोथैरेपी क्या है? अगर आप फिजियोथेरेपी में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आपको 12वीं में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी से पढ़ाई करनी आवश्यक है। फिजियोथैरेपी में अपना करियर बनाने के लिए आपको निम्नलिखित कोर्स को करना अनिवार्य है।

  1. फिजियोथेरेपी में स्नातक (बैचलर इन फिजियोथेरेपी)
  2. फिजियोथेरेपी में मास्टर (मास्टर इन फिजियोथेरेपी)
  3. फिजियोथेरेपी में डिप्लोमा (डिप्लोमा इन फिजियोथेरेपी)

फिजियोथैरेपी के कुछ प्रमुख संस्थान

S.NoInstitute’s NameAddress
1.Chandigarh UniversityPunjab
2.Jamia Milia IslamiaDelhi
3.University of MumbaiMumbai
4.Apollo Physiotherapy CollegeAndhra Pradesh
5.Indian Institute of Health Education & ResearchBihar

फिजियोथैरेपी का कितने साल का कोर्स होता है?

फिजियोथैरेपी कोर्स की अवधि की बात करें तो यह आपके द्वारा चुने गए कोर्स के अनुसार निश्चित होती है। बैचलर इन फिजियोथैरेपी कोर्स की अवधि 4.5 वर्ष, मास्टर इन फिजियोथैरेपी कोर्स की अवधि 2 वर्ष और डिप्लोमा इन फिजियोथैरेपी की कोर्स अवधि 2 वर्ष की होती है।

शैक्षणिक योग्यता क्या हो सकती है?

  1. फिजिक्स केमेस्ट्री बायोलॉजी के साथ 12वीं में अभ्यार्थी को 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण होना आवश्यक है।
  2. अभ्यार्थी की आयु सीमा 17 वर्ष से 25 वर्ष के बीच होनी आवश्यक है।
  3. कुछ संस्थाएं इस पाठ्यक्रम को कराने के लिए प्रवेश परीक्षा भी संचालित करती हैं और कुछ राज्य या केंद्र संस्थाएं इस पाठ्यक्रम को करवाने के लिए मेरिट के अनुसार भी प्रवेश प्रक्रिया कराती है।

फिजियोथैरेपी कोर्स करने के लिए क्या अनुमानित फीस हो सकती है?

इस पाठ्यक्रम को करने के लिए आपको सरकारी कॉलेजों में कम फीस चुकानी पड़ सकती है। जबकि किसी भी प्राइवेट कॉलेजों में इस कोर्स को करने के लिए ₹50,000 से लेकर ₹5,00000 तक फीस देनी पड़ सकती है। यह फीस प्राइवेट कॉलेजों में अलग अलग भी हो सकती है।

फिजियोथैरेपिस्ट बनने के लिए जरूरी स्किल?

  • कोर्स संबंधी कार्य को करने के लिए दीर्घकालीन एकाग्रता
  • एक बेहतर कम्युनिकेशन स्किल
  • समस्या को समझ कर निदान करने की स्किल
  • सहनशक्ति एवं जुझारू व्यक्तित्व
  • आत्मविश्वास

नौकरी के क्या-क्या विकल्प हो सकते हैं?

आज के समय में एक फिजियोथेरेपिस्ट की डिमांड बढ़ती नजर आ रही है। लगभग हर एक चिकित्सालय में इसके लिए अलग विभाग गठित किया जाता है। यदि आप चाहे तो अपना क्लीनिक भी खोल सकते हैं, और इससे अच्छी खासी इनकम भी कर सकते हैं। आप सरकारी चिकित्सालयों में भी इसके लिए आसानी से नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। लिहाजा आपके लिए यह एक अच्छा करियर विकल्प सिद्ध हो सकता है।

निम्नलिखित क्षेत्रों में रोजगार के अवसर:

  1. गवर्नमेंट/ प्राइवेट हॉस्पिटल व क्लिनिक
  2. रिहैबिलिटेशन होम्स
  3. ओल्ड एज होम्स
  4. हेल्थ सेंटर्स
  5. स्कूल व चिल्ड्रेन सेंटर्स
  6. नर्सिंग होम्स एंड डे सेंटर्स
  7. चैरिटी ऑर्गनाइजेशन
  8. स्पोर्ट्स क्लिनिक, क्लब, जिम सेंटर्स
  9. आर्मी सर्विसेस

एक फिजियोथेरेपिस्ट की अनुमानित सैलरी क्या हो सकती है?

एक सफल फिजियोथैरेपिस्ट बनने के बाद आपको किसी भी चिकित्सालय में अनुमानित शुरुआती वेतन ₹10,000 से लेकर ₹15,000 तक हो सकता है। यदि आप चाहे तो आप स्वयं का क्लीनिक खोलकर रोजाना के ₹4,000 से लेकर ₹6,000 तक कमा सकते हो। अंततः हम यह कह सकते हैं कि करियर के लिहाज से अगर आपने फिजियोथैरेपी विकल्प को चुना है तो यह निर्णय आपके लिए अच्छा साबित हो सकता है। जो आपके भविष्य को भी बुलंदियों तक ले जा सकता है।

फिजियोथैरेपी कोर्स से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न

प्रश्न – फिजियोथेरेपी कोर्स के लिये कैसे जॉइन करें?

उत्तर- कॉलेज/यूनिवर्सिटी की आवेदन अलग अलग होती है, ज़्यादातर ऐप्लिकेशन फ़ॉर्म जनवरी-मार्च के बीच आता है प्रवेश पाने के लिए आपको फ़ॉर्म भरने होंगे।

प्रश्न – क्या कोई घर पर आकर फिजियोथेरेपी कर सकता है?

उत्तर- बिलकुल फिजियोथेरेपी ही एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें बहुत ज़्यादा इंस्ट्रूमेंट की आवश्यकता नहीं होती है।

प्रश्न –फिजियोथेरेपी का डॉक्टर बनने के लिए बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी के बाद क्या करना पड़ता है?

उत्तर- देखिए डॉक्टर आप बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी करने के बाद भी बन सकते हैं लेकिन किसी भी डिपार्टमेंट से मास्टर डिग्री करने से आप एक उस डिपार्टमेंट का Specialist डॉक्टर बन जाते हैं।

प्रश्न – फिजियोथेरेपी कोर्स में अड्मिशन की क्या प्रक्रिया है?

उत्तर- अलग अलग यूनिवर्सिटी की अलग अलग प्रक्रिया है ज़्यादातर संस्थानों में प्रवेश परीक्षा के माध्यम से अड्मिशन मिलता है।

प्रश्न – फिजियोथेरेपी कोर्स करने के बाद क्या हम नाम के आगे “डॉक्टर” लगा सकते हैं?

उत्तर- नहीं।

5/5 - (1 vote)

1 thought on “फिजियोथेरेपी क्या है: कोर्स, परीक्षा, फ़ीस, कॉलेज, जॉब इत्यादि.”

Leave a Comment